Home breaking news जाट आंदोलन में मृतकों के परिजनों को मिलेगी पक्की नौकरी- सरकार का...

जाट आंदोलन में मृतकों के परिजनों को मिलेगी पक्की नौकरी- सरकार का बड़ा फैसला

0
SHARE

प्रदेश की भाजपा सरकार ने जाट नेताओं और सरकार के बीच पिछले रविवार को हुए समझौते पर अमल करना शुरू कर दिया है।

कल राज्यमंत्री कृष्ण बेदी की अध्यक्षता वाली 4 सदस्य कमेटी की पहली बैठक में मृतक आश्रितों को घर के पास नौकरी देने का फैसला लिया गया है,इसके लिए IAS अधिकारी बृजेंद्र सिंह को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।

जाट नेताओं और सरकार के बीच हुए समझौते के बाद
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री कृष्ण बेदी की अध्यक्षता में बनी चार सदस्यों वाली कमेटी की पहली बैठक शुक्रवार को चंडीगढ़ के हरियाणा निवास में हुई।

इस बैठक में सरकार और जाट आंदोलनकारियों के बीच हुए समझौतों को लागू करने पर विचार विमर्श हुआ, इस बैठक में निर्णय लिया गया कि आंदोलन में मारे गए लोगों के आश्रितों को घर के आस-पास पक्की नौकरी दी जाएगी।
चंडीगढ़ के हरियाणा निवास में हुई यह बैठक लगभग तीन घण्टे तक चली, राज्य मंत्री के अनुसार पीड़ितों को विशेष राहत प्रदान करते हुए पूरी प्रक्रिया को अपनाते हुए नौकरी दी जाएगी। इसके लिए पहले विज्ञापन के माध्यम से आवेदन मांगे जाएंगे उसके बाद इंटरव्यू की भी प्रक्रिया रहेगी।

वहीं जिन पीड़ितों अथवा घायलों के परिजनों को मुआवजा नहीं मिला है, वह अपने आवेदन संबंधित जिलों के डीसी के पास तुरंत करें।

LEAVE A REPLY